PM मोदी ने कहा, मणिपुर में स्थिति सामान्य करने के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है

पीएम मोदी ने कहा कि मणिपुर में स्थिति सामान्य करने के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है- India TV Hindi

Image Source : PTI
पीएम मोदी ने कहा कि मणिपुर में स्थिति सामान्य करने के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार मणिपुर में प्रदेश की सरकार के साथ मिलकर स्थिति को नॉर्मल करने के लिए निरंतर प्रयासरत है। उन्होंने सभी से राजनीति से ऊपर उठकर वहां की स्थिति को सामान्य बनाने में सहयोग की अपील की। साथ ही पीएम मोदी ने ‘आग में घी डालने’ वालों को आगाह भी किया कि वे ऐसी हरकतें बंद करें। 

राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “मणिपुर की स्थिति सामान्य करने के लिए सरकार निरंतर प्रयासरत है। वहां जो कुछ भी घटनाएं घटी हैं, उनमें 11,000 से ज्यादा प्राथमिकी दर्ज की गई है। मणिपुर छोटा सा राज्य है फिर भी 11,000 प्राथमिकी। वहां 500 से ज्यादा लोग गिरफ्तार हुए हैं।” उन्होंने कहा, “इस बात को भी हमें स्वीकार करना होगा कि मणिपुर में हिंसा की घटनाएं लगातार कम होती जा रही हैं। इसका मतलब शांति की आशा रखना शांति पर भरोसा करना संभव हो रहा है।” 

‘देश के अन्य हिस्सों की तरह मणिपुर में भी स्कूल, कॉलेज…खुल रहे’

पीएम मोदी ने कहा कि आज मणिपुर के ज्यादातर हिस्सों में आम दिनों की तरह स्कूल, कॉलेज, कार्यालय और दूसरे संस्थान खुल रहे हैं। उन्होंने कहा कि जैसे देश के और भागों में परीक्षाएं हुईं, वैसे ही मणिपुर में भी परीक्षाएं हुईं और बच्चों ने अपनी विकास यात्रा जारी रखी है। पीएम ने कहा, “केंद्र और राज्य सरकार सभी से बातचीत करके शांति की खातिर सौहार्दपूर्ण रास्ता खोलने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। छोटी-छोटी इकाइयों को जोड़कर ताने-बाने को बनाना एक बहुत बड़ा काम है और यह शांतिपूर्ण तरीके से हो रहा है।” 

‘हम सभी का सहयोग भी लेना चाहते हैं’

प्रधानमंत्री ने कहा, “वर्ष 1993 में मणिपुर में ऐसे ही, घटनाओं का क्रम चला था और इतना तीव्र और व्यापक चला था कि वह पांच साल लगातार चला था। यह सारा इतिहास समझकर, हमें बहुत समझदारी पूर्वक स्थितियों को ठीक करने का प्रयास करना है। जो भी इसमें सहयोग देना चाहता है, हम सभी का सहयोग भी लेना चाहते हैं। हम सामान्य स्थिति को बरकरार रखने और शांति लाने के लिए भरपूर प्रयास कर रहे हैं।” 

उन्होंने सभी राजनीतिक दलों से अपील करते हुए कहा, “हम सभी को राजनीति से ऊपर उठकर वहां की स्थिति को सामान्य बनाने में सहयोग करना चाहिए। यह हम सबका कर्तव्य है।” उन्होंने कहा, “जो भी तत्व मणिपुर की आग में घी डालने की कोशिश कर रहे हैं मैं उन्हें आगाह करता हूं कि यह हरकतें बंद करें। एक समय आएगा जब मणिपुर ही उनको खारिज करेगा।”

ये भी पढ़ें- कितनी पढ़ी लिखी हैं अंबानी परिवार की होने वाली छोटी बहू Radhika Merchant?


हरियाणा में एक पुलिस कांस्टेबल को कितनी मिलती है सैलरी? 

 

 

Latest India News

डिस्क्लेमरः यह Live India News की

 

ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. Live India News की टीम ने संपादित नहीं किया है

Source link


Discover more from LIVE INDIA NEWS

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Discover more from LIVE INDIA NEWS

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

Verified by MonsterInsights