भर जाएगी झोली!, पाकिस्तान के PM शहबाज शरीफ करेंगे चीन का दौरा, निवेश पर होगी चर्चा


Pakistan PM Shehbaz Sharif- India TV Hindi

Image Source : AP FILE
Pakistan PM Shehbaz Sharif

इस्लामाबाद: पाकिस्तान चीन को अपना दोस्त बताता है, लेकिन चीन अपने नागरिकों की मौत का हर्जाना तक पाकिस्तान से वसूल कर लेता है। यह दर्शाता है कि दोनों देशों के संबंध कितने मजबूत हैं। पाकिस्तान हमेशा पैसों के लिए दूसरे मुल्कों के सामने कटोरा लिए खड़ा रहता। चीन से भी पाकिस्तान को पैसों की जरूरत हैं। अब ऐसे समय में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने के मकसद से चीन का पांच दिवसीय दौरा करेंगे। विदेश कार्यालय ने पीएम शरीफ के चीन दौरे को लेकर जानकारी दी है। 

सीपीईसी परियोजना पर होगी बात 

चीन पाकिस्तान का सदाबहार सहयोगी रहा है। चीन ने पाकिस्तान में अरबों डॉलर का निवेश कर रखा है। चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजना भी इसी निवेश का हिस्सा है। विदेश कार्यालय की प्रवक्ता मुमताज जहरा बलूच ने अपनी साप्ताहिक प्रेस वार्ता में कहा कि शरीफ चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के निमंत्रण पर चार से आठ जून तक चीन की यात्रा करेंगे। इस यात्रा का उद्देश्य सीपीईसी परियोजना के तहत सहयोग को बढ़ाना है, क्योंकि दोनों पक्ष परियोजना के दूसरे चरण को करने के लिए उत्सुक हैं। 

पीएम शरीफ ने की बैठक 

सीपीईसी की शुरुआत एक दशक पहले हुई थी। प्रधानमंत्री शरीफ ने अपनी आगामी चीन यात्रा के मद्देनजर शुक्रवार को इस्लामाबाद में एक बैठक की। बैठक में पीएम शरीफ ने चीनी कंपनियों को पाकिस्तान में उद्योग स्थापित करने को प्रोत्साहित करने के लिए एक कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया। साथ ही यह आश्वासन भी दिया कि पाकिस्तान चीनी उद्योगपतियों और निवेशकों को हर संभव सुविधा प्रदान करेगा। 

पीएम के साथ होगा प्रतिनिधिमंडल

रेडियो पाकिस्तान की खबर के अनुसार पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान उनके साथ एक प्रतिनिधिमंडल भी होगा जिसमें देश के उद्योगपति, निवेशक शामिल होंगे। इस बीच, द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की एक खबर में बताया गया है कि सरकार ने सीपीईसी के तहत दो अरब अमेरिकी डॉलर की लागत से एक और सड़क परियोजना के निर्माण को मंजूरी दे दी है। इससे प्रधानमंत्री शरीफ की बीजिंग यात्रा के दौरान इसकी रूपरेखा से जुड़े समझौते पर हस्ताक्षर का मार्ग प्रशस्त हो गया है। सीपीईसी के तहत अब तक हुए 28 अरब अमेरिकी डॉलर के निवेश में से 6.7 अरब अमेरिकी डॉलर का निवेश बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में किया गया है। (भाषा)

यह भी पढ़ें:

यूक्रेन पर उत्तर कोरिया की मिसाइलों से हमला कर रहा है रूस, अमेरिका ने दिए सबूत

जर्मनी में सिरफिरे ने लोगों पर चाकू से किए ताबड़तोड़ वार, पुलिस ने हमलावर को मारी गोली

Latest World News





Source link


Discover more from LIVE INDIA NEWS

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Discover more from LIVE INDIA NEWS

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

Verified by MonsterInsights