'हमारा लोकतंत्र किसी भी मायने में पश्चिमी संस्थान नहीं है, यह एक मानव संस्थान है'

उन्होंने कहा कि दुनिया कोई शब्द हमको पकड़ा देती है हम उसको पकड़ लेते हैं, दुनिया की सबसे बड़ी डेमोक्रेसी दुनिया की सबसे बड़ी डेमोक्रेसी सुनने में अच्छा लगता है लेकिन हमने अपनी युवा पीढ़ी को सिखाया नहीं कि भारत मदर ऑफ डेमोक्रेसी है, यह लोकतंत्र की जननी है, यह बात हमें हमारी आने वाली पीढ़ियों को सिखानी होगी और गर्व से इस बात को बोलना होगा क्योंकि पूर्वजों ने यह विरासत दी है।

from India TV Hindi: india Feed https://ift.tt/2N64g3n
via liveindia

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां