Ad

सुशांत की भांजी का इमोशनल नोट: नहीं सोचा था कि गुलशन मामा की आवाज कभी नहीं सुन पाऊंगी...

कात्यायनी आर्या राजपूत ने लिखा कि इस दुनिया के लिए ऊर्जा के कभी न रुकने वाले बल को संभालना मुश्किल था।

from India TV Hindi: entertainment Feed https://ift.tt/31jKkyp
via liveindia

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां